Surah Al Muzammil Hindi Text | सूरह मुज जम्मिल हिन्दी में बहुत ही खूबसूरत तिलावत के साथ

 S 👇


 

(1)  

(2) कुमिल्लै-ल इल्ला कलीला 

(3) निस्-फहू अविन्कुस् मिन्हु कलीला 

(4) औ ज़िद् अलैहि व रत्तिलिल कुर् आ- न तरर्तीला 

(5) इन्ना सनुल्की अलै-क कौ-लन् सकीला
(6) इन्न नाशि-अ-तल्लेलि हि-य अ-शद्दु वत्- अव्व- अक- वमु कीला 

(7) इन्न ल-कः फिन्नहारि सब्-हन् तवीला 

(8) वज् कुरिम्-म रब्बि-क. व-त-बत्तल इलैहि तब्नीला

 (9) रब्बुल म शरिकि वल् मगूरिबि लाइला-ह इल्ला हु-व फत्तखिज्हु वकीला

 (10) वस्बिर् अला मा यकूलू-न वहजुरहुम् हज्-रन् जमीला (11) व-ज़रनी वल् मु- कज्ज़िबी-न उलिन्नअ - मति व-महिहलहुम कलीला

 (12) इन्न . लदेना अन्का- लवव - जही-म

 (13) व-तआ-मन् जा गुस्सातीव् - अजा-बन् अलीमा

 (14) यौ-म तर्जुफुल अरजु वलजिबालु वका-नतिल जिबालु कसी - बम्महीला

 (15) इन्ना अर्-सलना इलैकुम् ग्सू-लन् शाहि-दन्-अलैकुम् कमा अर्-सल्ना इला फिरऔं-न रसूला

(16) फ- असा फिरओनुर्रसू-ल फ-अ-खजूनाहु अख-जव्वबीना 

(17) फकै-फ तत्तकू-न इन् क-फरतुम् यौ-मय्यज-अलुल विल्दा-न शीबा 

(18) अस्समाउ मुन-फतिरुम् बिही+का-न वअदुहू मफऊला  

 (19) इन्न हाजिही तजूकि-स्तुन् फ-मन् शा-अत्त ख-ज इला रब्बिहि सबीला

 (20) इन्न रब्बक यअ-लमु अन्न-क तक्मु अना मिन सुलु-सइल्लेलि वनिस्फहू वसुलु-सहू वताइ-फ़तुम्मि - नल्लजी -न म-अ-क+वल्लाहु यु-कद्दिरुल्लै-ल वन्नहा-र + अलि-म अल्लन तुहसूहु फता-ब अलैकुम् फक्-रऊ मा त-यस्स-र मि-नल् कुआनि + अलि-म अन् स-यकूनु मिन्कुम्मरर्जा व आखरु-न यजूरिबू-न फिल् अरर्जि यब्-तगू-न मिन् फजूलिल्लाहि वआ-ख़रू-न •

युकातिलू-न फी सबीलिल्लाहि, फक् - रऊ मा त-यस्त-र मिनहु व-अकीमुस्सला-त वआतुज्जका-त व-अकूरिजुल्ला-ह कर- ह-स-नन्न+वमा तु-कद्दिमू लि-अनफुसिकुम मिन खैरिन तजिदूहु इन-दल्लाही हु-व खै -रव्व अअ-ज-मू अज-रन+वस-तगफिरुल्ला -ह + इन्नल्ला-ह गुफुरुर्रहीम् 



Note:- नाज़रीन ये था Surah  Al Muzammil In Hindi |सूरह मुज जम्मिल हिन्दी में सीके
 कुछ ज़रूरी बातें जो क़ुरआन और हदीस से साबित होती हैं। अगर आप का दीन और दुनिया से जुड़ा कोई सवाल है, या फिर आप हमें कुछ नसीहत करना चाहते हैं। हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं।

उम्मीद करते हैं आप को पोस्ट पसंद आयी होगी

जज़ाक़ अल्लाह



Previous Post Next Post